Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Home / पैग़म्बर / नबी करीम सल्लल्लाहु अलहि वसल्लम

नबी करीम सल्लल्लाहु अलहि वसल्लम

जानिए मुहम्मद रसूलुल्लाह (सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म) की क्या फ़िक्र है उम्मत के लिए ? पढ़ कर शेयर

जानिए मुहम्मद रसूलुल्लाह (सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म) की क्या फ़िक्र है उम्मत के लिए ? पढ़ कर शेयर मफ़हूम-ए-हदीस: हज़रत अम्र बिन औफ रज़ि० रिवायत करते हैं कि रसूलुल्लाह (सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म) ने इर्शाद फ़रमाया : अल्लाह कि कसम ! मुझे तुम्हारे बारे में फ़िक्र व फ़ाक़ा का डर नहीं , …

Read More »

जानिए हज़रत मुहम्मद (सल्लल्लाहु आलैहि वसल्लम) का ख़ानदान और नसब-नामा…पढ़ कर शेयर करें

जानिए हज़रत मुहम्मद (सल्लल्लाहु आलैहि वसल्लम) का ख़ानदान और नसब-नामा…पढ़ कर शेयर करें بسم الله الرحمن الرحيم अल्लाह ने अपने आखिरी नबी, रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) पर अपना आखिरी पैगाम कुरआन शरीफ़ नाज़िल किया था। कुरआन शरीफ़ जो सारी इन्सानियत के लिये नाज़िल हुआ है, जो रहम और बरकत की …

Read More »

पढ़िए हज़रत रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) के कुछ अक़वाल और उनकी सीरत पर कुछ अहादीस …

पढ़िए हज़रत रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) के कुछ अक़वाल और उनकी सीरत पर कुछ अहादीस … सरकारे दो आलम रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) का इरशाद है के… मै ख़ातमुन्न नबिय्यीन हूँ, मेरे बाद कोई नबी नहीं होगा । (हवाला:- अबुदावूद /तिर्मिज़ी / मिश्कात शरीफ) रसूलों का सिलसिला मुझ पर खत्म …

Read More »

आप ﷺ किस तरह सफ़र किया करते थे और रात में किस तरह सोते थे : जानिए

आप ﷺ किस तरह सफ़र किया करते थे और रात में किस तरह सोते थे : जानिए मफ़हूम-ए-हदीस: हज़रात अबू क़तादा रज़ि अल्लाह फरमाते है की आप अगर कुछ सवेरे कुछ पडाव डालते है तो दाई करवट लेट जाए आराम फरमाते और अगर सुबह के वक्त पड़ाव डालें तो दाया …

Read More »

जानिए नबी करीम रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) को जन्नत में सब से बड़ा तोहफा (उपहार) क्या दिया गया है ?

जानिए नबी करीम रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) को जन्नत में सब से बड़ा तोहफा (उपहार) क्या दिया गया है ? मफ़हूमे-ए-हदीस : हज़रत अनस बिन मालिक रज़ि० रिवायत करते हैं कि रसूलुल्लाह सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म ने इर्शाद फ़रमाया : जन्नत में चलने के दौरान मेरा गुज़र एक नहर पर हुआ …

Read More »

हज़रत मुहम्मद सल्ल० के इंतकाम लेने के ब्यान में ? ज़रूर पढ़ें और शेयर करें

हज़रत मुहम्मद सल्ल० के इंतकाम लेने के ब्यान में ? ज़रूर पढ़ें और शेयर करें हज़रत आइशा रज़ियल्लाहु अन्हा फ़रमारती हैं कि रसूलुल्लाह सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म ने अपने ज़ाती मामले में कभी किसी से इंतिकाम नहीं लिया , लेकिन जब अल्लाह तआला की हराम की हुई चीज़ का इरतकाब किया …

Read More »

नबी सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म का मक्का में उतरना साबित है |

नबी सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म का मक्का में उतरना साबित है | हदीस : अबू हुरैरा रज़ि० कहते हैं कि जब नबी सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म ने मक्का आना चाहा तो फ़रमाया : हम कल इन्शा अल्लाह ( अगर अल्लाह ने चाहा तो ) खैफ बनी किनाना में उतरेंगे जहां मुशिरकों ने …

Read More »

नबी सल्ल० ने दुआ मगफिरत किन लोगों के लिए फ़रमाई ? जानिए

नबी सल्ल० ने दुआ मगफिरत किन लोगों के लिए फ़रमाई ? जानिए हदीस : हज़रत सहल बिन साद सइदी रज़ि० फरमाते हैं कि हम गज़वा – ए – खन्दक में रसूलुल्लाह सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म के साथ थे । आप सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म खन्दक खोद रहे थे और हम खन्दक से …

Read More »

नबी करीम सल्ल० पर दुरुद भेजने वाले के लिए उसका अज्र व सवाब क्या होगा ? जानिए

नबी करीम सल्ल० पर दुरुद भेजने वाले के लिए उसका अज्र व सवाब क्या होगा ? जानिए हदीस : हज़रत अबू हुरैरह रज़ि० नबी करीम सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म का इरशाद नकल फरमाते हैं कि जिसको यह बात पसन्द हो कि जब वह हमारे घर वाले पर दुरुद पढ़े तो उसका …

Read More »

जानिए मुहम्मद सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म जब नये चाँद को देखते तो क्या फरमाते थे ? एक शेयर करें …

मुहम्मद (सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म ) जब नये चाँद को देखते तो क्या फरमाते थे ? जानिए हज़रत क़तादा रहमतुल्लाहि अलैहि फरमाते हैं , मुझे यह बात पहुंची है कि रसूलुल्लाह सल्लसल्लाहु अलैहि वसल्ल्म जब नये चाँद को देखते , तो तीन बार फरमाते : ” यह ख़ैर और हिदायत का …

Read More »